हार्दिक पटेल का आरोप, पीएम मोदी बनना चाहते हैं धर्मनिरपेक्ष नेता

New Delhi, News Nation Bureau | Updated : 28 August 2016, 12:39 PM
Source: Gettyimages
Source: Gettyimages

पटेल आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल ने माँग की है कि गुजरात दंगों में दोषी पटेल समुदाय के लोगों को रिहा किया जाए। उनका मानना है कि पीएम मोदी अब पटेल समुदाय के लोगों को रिहा नहीं कराना चाहते क्योंकि वो अब दुनिया के सामने वे खुद को धर्मनिरपेक्ष नेता के रूप में पेश करना चाहते हैं।

हार्दिक ने पीएम मोदी को एक खत लिखा जिसमें पटेल समुदाय के 102 लोगों के नाम भेजे हैं जिन्हें उम्रकैद की सजा मिली हुई है। हालांकि पत्र में उन्होंने इल्जाम लगाते हुए कहा है कि मोदी 2002 दंगों का लाभ उठाकर पहले राज्य के मुख्यमंत्री और बाद में देश के प्रधानमंत्री बने।

अपने पत्र के जरिए गुजरात दंगों के लिए पीएम मोदी को भी गुनाहगार माना है। साथ ही पत्र में लिखा है कि पटेल युवाओं की सजा माफ करने के लिए पीएम को राष्ट्रपति से सिफारिश करनी चाहिए।

हार्दिक पटेल इन दिनों गुजरात से छह महीन के लिए बाहर हैं क्योंकि हाल ही में राजद्रोह के आरोप में वे जेल से जमानत पर रिहा हुए हैं। उनकी जमानत की शर्त के मुताबिक वो अगले 6 महीने तक गुजरात से बाहर रहेंगे।